मैच फिक्सिंग ने इन भारतीय खिलाडिय़ों का कैरियर किया बर्बाद, बीसीसीआई लगा चुकी है बैन

Indian cricketers who involved in match fixing

बीसीसीआई ने 2013 में आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग मामले में श्रीसंत पर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया था. 2015 में हालांकि दिल्ली की एक विशेष अदालत ने उन पर लगे सभी आरोपों से उन्हें बरी कर दिया था। लेकिन उनका करियर पूरी तरह तबाह हो चुका है। मैच फिक्सिंग क्रिकेट की दुनिया में काफी पहले से ही चलती आ रही है. मैच फिक्सिंग के कारण कई बार क्रिकेट की दुनिया बदल जाती है। इंडियन क्रिकेट के इतिहास में भी कई खिलाड़ी ऐसे हैं जिन पर मैच फिक्सिंग का दाग लग चुका है। आइए जानते हैं ऐसे कौन से खिलाड़ी हैं जिन पर यह दाग लगा है।

एस श्रीसंत (S. Sreesanth)

S Shrisant

श्रीसंत ऐसे खिलाड़ी है जिस को सभी जानते हैं। आपको बता दें कि आईपीएल के अंदर श्रीसंत पर साल 2013 में मैच फिक्सिंग का आरोप लगा था जिसके बाद श्रीसंत का बतौर क्रिकेट करियर पूरी तरह बर्बाद हो चुका है. फिक्सिंग के आरोप लगने के बाद बीसीसीआई ने श्रीसंत पर किसी भी तरह का क्रिकेट मैच न खलने पर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया था। बाद में बेशक उनको अदालत से बरी कर दिया गया हो लेकिन मैच फिक्सिंग के आरोप के कारण श्रीसंत का करियर पूरी तरह से खत्म हो गया है। 

मोहम्मद अजहरुद्दीन (Mohammad Azharuddin)

Mohammad Azharuddin

इंडियन क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन ने जितनी भी इज्जत कमाई थी,  2000 में वह अपनी इज्जत गावा चुके थे। आपको बता दें कि कोर्ट बेशक मोहम्मद अजरुद्दीन के हक में फैसला सुना चुका हूं लेकिन आज भी भारतीय लोगों को ऐसा लगता है कि जैसे मोहम्मद अजरुद्दीन में साल 2000 में भारतीय क्रिकेट टीम को पूरी तरीके से बर्बाद कर दिया था. मोहम्मद अजरुद्दीन और दक्षिण अफ्रीका कप्तान हैंसी के ऊपर एक साथ मैच फिक्सिंग के आरोप लगे थे। मोहम्मद अजहरुद्दीन ने भी अपना क्रिकेट करियर मैच फिक्सिंग के आरोप के कारण खराब कर लिया था।

मनोज प्रभाकर (Manoj Prabhakar)

Manoj Prabhakar

इस लिस्ट में मनोज प्रभाकर भी शामिल है इन पर साल 1999 के अंदर मैच फिक्सिंग के बहुत बड़े आरोप लगे थे। एक मीडिया ग्रुप में उस समय इस तरीके का स्टिंग ऑपरेशन किया था जिसके कारण मनोज प्रभाकर पूरी तरीके से बदनाम हो गए थे। मनोज प्रभाकर ने उस समय इंडियन क्रिकेट टीम के एक बहुत बड़े खिलाड़ी और पूर्व कप्तान कपिल देव के ऊपर भी गंभीर आरोप लगाए थे। उसके बाद मनोज प्रभाकर को क्रिकेट की दुनिया में हमेशा के लिए बैन कर दिया गया था।

अजय जडेजा (Ajay Jadeja)

Ajay Jadeja

अजय जडेजा के ऊपर भी मैच फिक्सिंग का आरोप लग चुके हैं. साल 1999 में मैच फिक्सिंग के कारण अजय जडेजा के ऊपर बीसीसीआई ने पांच साल का बैन लगा दिया था, बाद में उनको अदालत से बाइज्जत बरी जरूर कर दिया गया था लेकिन तब तक अजय जडेजा का करियर बर्बाद हो चुका था।

अजय शर्मा (अजय शर्मा)

Ajay sharma

अजय शर्मा एक शानदार खिलाड़ी थे इनके ऊपर भी मैच फिक्सिंग का आरोप लग चुका है। अजय शर्मा को फर्स्ट क्लास क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन करने की वजह से क्रिकेट के भगवान ब्रैडमैन की तुलना में रखा जाने लगा था। लेकिन मैच फिक्सिंग के कारण ही इनकी पूरी छवि खराब हो गई थी।