ऋतु फोगाट ने छोड़ी रेसलिंग, इस खेल में बना रही है अपना करियर

Ritu Phogat Workout

चरखी दादरी के गांव बलाली निवासी अंतर्राष्ट्रीय महिला रेसलर गीता-बबीता की छोटी बहन ऋतु फौगाट देश की प्रतिभाशाली पहलवानों में से एक है। ऋतु ‘दंगल’ फेम कोच महावीर फोगाट की बेटी हैं और उसने राष्ट्रमंडल कुश्ती चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीता, साल 2017 में पोलैंड में आयोजित वर्ल्ड अंडर 19 सीनियर चैम्पियनशिप में देश के लिए रजत पदक जीता था। ऋतु साल 2016 में प्रो रेसलिंग लीग की नीलामी में सबसे महंगी पहलवानी रही थी।

ऋतु उन प्रतिभाशाली पहलवानों में से थीं, जिने आगामी समय में देश को काफी उम्मीदें थी, लेकिन उन्होंने अचानक रेसलिंग छोड़कर देश को जोरदार झटका दिया है। जी है ऋतु ने अपने पिता और बहनो की रह छोड़ दी है और पहलवानी को अलविदा करते हुए मिक्स मार्शल आर्ट (एमएमए) में नए करियर की शुरुआत की है।अब मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में  ऋतु सिंगापुर की इवोल्व फाइट टीम से जुड़ी हैं और सिंगापुर में विश्व चैम्पियन खिलाडिय़ों से ट्रेनिंग ले रही।

बता दे फोगाट बहनों ने कुश्ती में नए आयाम स्थापित किए हैं। इस प्रोफेशनल लीग में शामिल होने से पहले ऋतु ने कहा था कि, ‘मेरे परिवार को सभी रेसलिंग के कारण जानते हैं, लेकिन मैं रेसलिंग छोड़कर मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स से जुड़ी हूं। दरअसल, मैं यू-ट्यूब पर लंबे समय से एमएमए की फाइट देखा करती थी। मैं हमेशा कुछ नया करना चाहती थी। उन्होंने कहा कि सिंगापुर के मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स संस्थान ने मुझे यहां ट्रेनिंग करने का ऑफर दिया और मैं इसे गंवाना नहीं चाहती थी। यह एशिया का सबसे बड़ा एमएमए ट्रेनिंग सेंटर है। मैं हमेशा सोचती थी कि एमएमए में भारत का कोई वर्ल्ड चैंपियन क्यों नहीं है? मेरे रेसलिंग से एमएमए में आने का मुख्य कारण भी यही था।

ऋतू के पिता महावीर फोगाट एक जाने माने पहलवान और कुश्ती के प्रशिक्षक  है और उनकी बहने गीता, बबिता और संगीता कुश्ती में चैम्पियन रह चुकी है।  मशहूर फोगाट बहनों में ऋतु तीसरे नंबर की है। 2 मई 1994 को महावीर फौगाट के घर उनकी तीसरी बेटी ऋतु फोगाट का जन्म हुआ। 8 साल की उम्र से ही ऋतु अपने पिता और बहनों से पहलवानी के गुर सीख रही है. इसके लिए उन्होंने 10वीं के बाद पढ़ाई भी छोड़ दी थी.और ऋतु अपने परिवार की पहली सदस्य है जो एक खेल में महारत हासिल कर दूसरे खेल में कूद पड़ी है। 

ऋतु के पिता द्रोणाचार्य अवार्डी महावीर फोगाट का कहना है कि ऋतु ने पहलवानी में देश के लिए कई मेडल जीते हैं. ऋतु अब मार्शल आर्ट में देश के लिए रिकार्ड बनाने के लिए मैदान में उतरी है और आने वाले समय में देश के लिए मार्शल आर्ट में भी मेडल जीतकर दिखाएगी. रितु फोगाट का कहना है की  ,‘मैं मिक्स्ड मार्शल आर्ट में विश्व चैम्पियन बनना चाहती हूं. उसके लिये पूरी तैयारी में जुटी हूं.’ उन्होंने कहा ,‘मैने पूरे मनोयोग से इसमें भाग लेने का फैसला किया है. मेरा मकसद मिक्स्ड मार्शल आर्ट विश्व चैम्पियनशप जीतने वाली पहली भारतीय महिला बनना है. मैं देश की महिलाओं को प्रेरित करना चाहती हूं. यह सम्मान की बात है.’

Related posts